वैशाली जिला

विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
वैशाली जिला
वैशाली में बिस्व शांति स्तूप
वैशाली में बिस्व शांति स्तूप
बिहार राज्य में वैशाली जिला के लोकेशन
बिहार राज्य में वैशाली जिला के लोकेशन
देस  भारत
राज्य बिहार
प्रमंडल (कमिश्नरी) तिरहुत
निर्माण 10 दिसंबर 1972
मुख्यालय हाजीपुर[1]
अनुमंडल (सब डिवीजन) 3
Area
 • कुल 2,036 किमी2 (786 बर्गमील)
Elevation
51 m (167 ft)
Population
 (2011)
 • कुल 3,495,021
 • Density 1,700/किमी2 (4,400/बर्गमील)
जनसांख्यिकी
 • साक्षरता 66.60%
 • लिंगानुपात 1.895 /
Time zone UTC+05:30 (भारतीय मानक समय (आइएसटी))
प्रमुख सड़क एनएच 22, एनएच 31, एनएच 322
मानव बिकास (एचडीआइ) (2016) Increase 0.407[2]
Website Official website

वैशाली जिला भारतीय राज्य बिहार के 38 गो जिला सब में से एगो जिला हऽ। ई सांस्कृतिक रूप से मिथिला क्षेत्र आ प्रशासनिक रूप से तिरहुत प्रमंडल के भीतर आवे ला आ बिहार राज्य के लगभग बीचोबीच वाला इलाका में गंगा नदी के उत्तर में पड़े ला। जिला के मुख्यालय हाजीपुर हवे जे बिहार के राजधानी पटना के जोड़ुआ शहर हवे।

जिला के नाँव प्राचीन नगरी वैशाली के नाँव पर रखल गइल हवे। एह जिला के बसाढ़ नाँव के गाँव के लगे पुरनका वैशाली शहर के अवशेष मौजूद बाड़ें। एही के नाँव पर ई जिला 1972 में मुजफ्फरपुर से अलग क के बनावल गइल।

इतिहास[संपादन करीं]

प्राचीन इतिहास[संपादन करीं]

नक्शा पर महाजनपद सभ के लोकेशन
500 ईसापूर्ब के महाजनपद सभ। बज्जि महाजनपद मगध के उत्तर में आ मल्ल महाजनपद के पूरुब में रहल।

जिला के नाँव प्राचीन नगरी वैशाली के नाँव पर रखल गइल हवे जबकी खुद वैशाली के नाँव महाभारत जुग के राजा विशाल के नाँव पर पड़ल रहे।[3] इलाका में बौद्ध आ जैन धरम के आगमन से पहिलहीं, वैशाली शहर बज्जी संघ के राजधानी रहल, अंतिम जैन तीर्थंकर महावीर स्वामी के जनम (ल. 599 ईपू.) से पहिले, ई पता चले ला की ई दुनियाँ के पहिला गणतंत्र रहे जइसन कि बाद के समय में प्राचीन यूनान में डेवेलप भइलें।[4] अपना जमाना में वैशाली प्राचीन महानगरी रहल आ मिथिला के बज्जि संघ के राजधानी रहल जेकरे अंतर्गत वर्तमान बिहार के लगभग पूरा हिमालई तराई के इलाके आवे।[3]

वैशाली के लिच्छवि राजा लोग के बारे में बौद्ध जातक कथा सभ में बिबरन मिले ला कि 7707 राजा लोग वैशाली के संघ पर शासन कइल; बाद में अजातशत्रु एकरा के मगध में मिलवलें।[3] गौतम बुद्ध एही वैशाली में आपन अंतिम धर्मोपदेस दिहले रहलें आ अपने निर्बान के घोषणा कइलें। जैन तीर्थंकर महावीर के जनम वैशाली से थोरिके दूर स्थित कुंडग्राम (भा कुंडनपुर) में भइल रहे आ इनके महतारी त्रिशला वैशाली के राजा चेटक के बहिन रहली। एह तरीका से वर्तमान में बौद्ध आ जैन दुनों लोगन खातिर ई तीर्थ अस्थान बन जाला।

प्राचीन वैशाली इहाँ के राजनर्तकी अंबपाली (आम्रपाली) खातिर परसिद्ध हवे जिनका बारे में कई गो बुद्ध कालीन कथा मिले लीं; बाद में ई बौद्ध धरम अपना लिहले रहली।[3] बतावल जाला की इनहीं के दान कइल आम के बगइचा में बुद्ध आपन 45वाँ वर्षा-वास कइलें आ एकरे बाद कुशीनगर के ओर चल गइलें।[5]

आधुनिक पुरातात्विक खोदाई में वैशाली से लगभग एक हजार मोहर मिललीं सऽ जे 3सरी-4थी सदी ईस्वी के मानल जालीं आ एहिजा के खोदाई से इहो परमान मिले लें कि गुप्तकाल में एकर महत्व कम होखे लागल रहे आ गुप्तोत्तर काल में शहर के पतन भइल।[6] वर्तमान वैशाली जिला के भीतर, हाजीपुर के पूरुब ओर एगो अस्थान पर खोदाई में चेचर के सभ्यता के पता लागे ला जे पाल बंस के शासन काल में एगो शहर के रूप में बिकसित रहल।[7]

आजादी के बाद[संपादन करीं]

भारत के आजादी के समय वर्तमान वैशाली जिला के इलाका बिहार के तत्कालीन जिला मुजफ्फरपुर के हिस्सा रहल। 1972 में मुजफ्फरपुर के बिभाजन कइल गइल आ सीतामढ़ी आ वैशाली जिला के नाँव से दू गो अलगा जिला बनावल गइल। वैशाली के मुख्यालय पटना के नगीचे, गंगा-पार बसल शहर हाजीपुर के बनावल गइल।

भूगोल[संपादन करीं]

प्रशासनिक बिभाजन में ई तिरहुत प्रमंडल के हिस्सा हवे। वैशाली जिला, बिहार राज्य के लगभग बीचोबीच स्थित बाटे। एकर कुल रकबा 2,036 वर्ग किलोमीटर (786 वर्ग मील)[8] बाटे। एकरे उत्तर में मुजफ्फरपुर जिला, पूरुब में समस्तीपुर जिला, दक्खिन में पटना जिला आ पच्छिम में सारन जिला (मुख्यालय छपरा) पड़ें लें। भौतिक भूगोलीय दृष्टि से ई जिला गंगा के बिचला मैदान में पड़े ला। ई गंगा नदी के उत्तर में हवे आ एकरे पच्छिम में सारन जिला से अलगा करे वाली गंडक (नारायणी) नदी बहे ले।

बया नदी जिला के लगभग बीचोबीच से हो के बहे ले आ उत्तर-पच्छिम से दक्खिन-पूरुब दिसा में एकर बहाव हवे। ई गंडक (नारायणी) के बेसी पानी (spill over) से बने वाली नदी हवे जे मुजफ्फरपुर जिला के उत्तर-पच्छिम से निकले ले आ वैशाली जिला के पार क के समस्तीपुर जिला में दलपत सिंह सराय के लगे गंगा में मिल जाले। बया नदी में भयानक बाढ़ के सीजन होखे ला जब नारायणी आ गंगा दुनों बढ़िया जालीं; गंडक से एकरा के पानी मिले लागे ला आ गंगा में बाढ़ एकरे पानी के निकास के रोक देले।[9]

जलवायु के हिसाब से ई जिला कोपेन के बर्गीकरण के Cwg ग्रुप में आवे ला जहाँ सभसे ठंढा महीना जनवरी आ सभसे गरम महीना मई-जून होखे लें। जून के शुरुआत में इहाँ मानसून के सीजन शुरू होखे ला जे बरखा के सीजन हवे; जुलाई-अगस्त सभसे बेसी बरखा वाला महीना होखे लें। जाड़ा में बहुत ठंढा बढ़े पर शीत-लहरी चले ला।

प्रशासनिक बिभाजन[संपादन करीं]

बिहार में जिला के प्रशानिक रूप से तहसील (अनुमंडल भा सब-डिवीजन) आ बिकास खंड (सीडी ब्लॉक) सभ में बाँटल जाला। एह बिभाजन के हिसाब से वैशाली जिला में तीन गो अनुमंडल बाड़ें आ 16 गो सीडी ब्लॉक बाड़ें:

अनुमंडल
  1. हाजीपुर
  2. महनार
  3. महुआ
सीडी ब्लॉक
  1. हाजीपुर
  2. भगवानपुर
  3. बिदुपुर
  4. चेहरा कलाँ
  5. देसरी
  6. गोरौल
  7. जंदाहा
  8. लालगंज
  9. महनार
  10. महुआ
  11. पतेपुर
  12. पतेरही बेलसार
  13. राघोपुर
  14. राजा पाकड़
  15. सहदई बुजुर्ग
  16. वैशाली
गाँव

एकरा बाद गाँव सभ के नंबर आवे ला। वैशाली जिला में 2011 के जनगणना में 1,569 जनगणना गाँव चिन्हित कइल गइल रहलें जिनाहन में 1,422 आबाद गाँव आ 147 इस्तमरारी (रेवेन्यू) गाँव रहलें।[10]

जनसांख्यिकी[संपादन करीं]

Historical population
YearPop.±% p.a.
1901737,793—    
1911761,720+0.32%
1921737,475−0.32%
1931787,287+0.66%
1941868,565+0.99%
1951942,472+0.82%
19611,133,086+1.86%
19711,348,990+1.76%
19811,662,527+2.11%
19912,146,065+2.59%
20012,718,421+2.39%
20113,495,021+2.54%
source:[11]
वैशाली जिला में धर्म (2011)[12]
धर्म परसेंट
हिंदू
  
90.20%
मुसलमान
  
9.56%
अन्य चाहे जे ना बतावल
  
0.24%
<div class="transborder" style="position:absolute;width:100px;line-height:0;
Circle frame.svg

वैशाली जिला के भाषा (2011)

  हिंदी (25.10%)
  उर्दू (4.80%)
  दूसर (0.22%)

2011 के भारत के जनगणना के अनुसार वैशाली जिला के कुल आबादी 3,495,021 रहल,[13] ई लगभग पनामा के बरोबर,[14] चाहे अमेरिकी राज्य कनेक्टिकट के बरोबर बाटे।[15] एकरा चलते वैशाली जिला के रैंक 86वाँ (भारत के 640 जिला सभ में) रहल।[13] जिला के जनसंख्या घनत्व 1,717 निवासी प्रति वर्ग किलोमीटर (4,450/वर्ग मील) रहल।[13] दशक 2001-2011 में आबादी में बढ़ती के दर 28.58 % रहल।[13] एहिजा मानव लिंगानुपात 892 औरत हर 1000 मरद पर,[13] आ कुल साक्षरता दर 66.60 % रहल। जिला में अनुसूचित जाति आ अनुसूचित जनजाति के आबादी क्रम से 21.12 % आ 0.07 % रहल।[13]

कुछ अन्य तथ्य देखल जाय तब: वैशाली बिहार के 10वाँ सभसे बेसी आबादी वाला जिला हवे आ ई बिहार के सभसे घन बसाव वाला जिला सभ में 4था रैंक पर बाटे।[10] मानव लिंगानुपात के मामिला में ई बिहार में 34वाँ आ शिशु लिंगानुपात (0-6 बरिस के बच्चा सभ में) ई बिहार के सबसे निचला 38वां जिला रहल।[10] लालगंज सीडी ब्लॉक के घटारो चतुर्भुज सभसे बेसी आबादी वाला गाँव रहल आ राघोपुर सभसे बेसी रकबा वाला गाँव रहल।[10]

भाषा[संपादन करीं]

जनगणना के आँकड़ा अनुसार जिला के 95.09 % आबादी हिंदी बोले वाला आ 4.80 % लोग उर्दू बोले वाला रहल; हालाँकि, 69.88 % लोग आपन भासा के हिंदी के अंतर्गत "अन्य" के श्रेणी में रखलें आ खाली 25.10 % लोग आपन भासा हिंदी मनलें। इलाका के मुख्य बोली बज्जिका हवे जे मैथिली भाषा के एगो वेरायटी हवे।[16]

जिया-जंतु आ बनस्पति[संपादन करीं]

बरैला झील[संपादन करीं]

वैशाली जिला के पूरबी हिस्सा में जंदाहा ब्लॉक में बरैला झील बाटे। ई इकोलॉजी के हिसाब से बहुत महत्व के झील हवे। बिहार सरकार एह झील के इलाका के सालिम अली जुब्बा साहनी पक्षी बिहार के नाँव से संरक्षित क्षेत्र घोषित कइले बा। हालाँकि, एह घोषणा के बावजूद एकरे बिकास के दिसा में बहुत काम नइखे भइल।[17]

संदर्भ[संपादन करीं]

  1. "District headquarter of Vaishali". पुरालेखित से पुरालेखित 17 May 2021 के. पहुँचतिथी 3 June 2021. vaishali.nic.in
  2. "Development of Human Development Index at District Level for EAG States" (PDF). March 2016. पुरालेखित (PDF) से पुरालेखित 2 June 2021 के. पहुँचतिथी 31 May 2021.
  3. 3.0 3.1 3.2 3.3 "History | Official Website of Vaishali District | India". vaishali.nic.in. बिहार सरकार. पहुँचतिथी 22 जनवरी 2022.
  4. गुप्ता, के. आर.; गुप्ता, अमिता (2006). Concise Encyclopaedia of India (English में). Atlantic Publishers & Dist. ISBN 978-81-269-0639-0. पहुँचतिथी 22 जनवरी 2022.
  5. देशपांडे, अरुणा (1 नवंबर 2013). Buddhist India Rediscovered (English में). जैको पब्लिशिंग हाउस. ISBN 978-81-8495-247-6. पहुँचतिथी 22 जनवरी 2022.
  6. शर्मा, रामशरण (1 जनवरी 2009). भारत के प्राचीन नगरों का पतन (Hindi में). राजकमल प्रकाशन. ISBN 978-81-267-0075-2. पहुँचतिथी 22 जनवरी 2022.
  7. मॅंडल, राम बहादुर (2012). नगरीय भूगोल की रुपरेखा (Hindi में). Concept Publishing Company. ISBN 978-81-8069-730-2. पहुँचतिथी 22 जनवरी 2022.
  8. Srivastava, Dayawanti et al. (ed.) (2010). "States and Union Territories: Bihar: Government". India 2010: A Reference Annual (54th संस्क.). New Delhi, India: Additional Director General, Publications Division, Ministry of Information and Broadcasting (India), Government of India. पप. 1118–1119. ISBN 978-81-230-1617-7.CS1 maint: extra text: authors list (link)
  9. Bengal District Gazetteers Muzaffarpur. 1907. |first1= missing |last1= (मदद)
  10. 10.0 10.1 10.2 10.3 वैशाली जिला: प्राइमरी सेंसस एब्स्ट्रेक्ट, 2011, जनगणना बिभाग, भारत सरकार।
  11. "दसक अनुसार बदलाव, 1901 के बाद से". पुरालेखित से पुरालेखित 8 August 2019 के. पहुँचतिथी 9 अगस्त 2019.
  12. "C-16 Population By Mother Tongue". censusindia.gov.in.
  13. 13.0 13.1 13.2 13.3 13.4 13.5 "District Census 2011". Census2011.co.in. 2011. पुरालेखित से पुरालेखित 2011-06-11 के. पहुँचतिथी 2011-09-30.
  14. US Directorate of Intelligence. "Country Comparison:Population". पुरालेखित से पुरालेखित 27 September 2011 के. पहुँचतिथी 2011-10-01. Panama 3,460,462 July 2011 est.
  15. "2010 Resident Population Data". U. S. Census Bureau. पुरालेखित से पुरालेखित 2013-10-19 के. पहुँचतिथी 2011-09-30. Connecticut 3,574,097
  16. "2011 Census of India, Population By Mother Tongue". पुरालेखित से पुरालेखित 15 अगस्त 2018 के. पहुँचतिथी 26 September 2019.
  17. "Dreams in dust". downtoearth.org.in (English में). 15 अगस्त 1997. पहुँचतिथी 23 जनवरी 2022.

बाहरी कड़ी[संपादन करीं]