बिहार के भूगोल

विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
बिहार के उपग्रहचित्र
बिहार के उपग्रह से लिहल चित्र

बिहार राज्य उत्तरी पूर्वी भारत क एगो राज्य हवे[1] जेवन भारत की गंगा मैदान में स्थित बाटे आ एकर भूगोलीय बिस्तार 21° 58' 10" N ~ 27° 31' 15" N अक्षांश आ 82° 19' 50" E ~ 88° 17' 40" E देशांतर की बिचा में बाटे। बिहार के कुल रकबा 94,163 वर्ग किलोमीटर बाटे। बिहार के सीमा उत्तर में नेपाल, पुरुब ओर पश्चिम बंगाल, दक्खिन ओर झारखंड आ पच्छिम ओर उत्तर प्रदेश से सटल बा।

भौतिक रचना[संपादन]

बिहार के जमीन की रचना की हिसाब से दू भाग में बाँटल जाला - शिवालिक के पहाड़ी भाग आ उत्तरी तराई प्रदेश अउरी बिहार मैदान

तराई[संपादन]

तराई वाला हिस्सा मे तीन गो उपबिभाग कइल जाला:

  1. रामनगर दून: लगभग 200 वर्ग किलोमीटर की क्षेत्र मे बिस्तार वाला ई छोटहन पहाड़िन के लड़ी बाटे। एह के दक्खिनी श्रेणी भी कहल जाला। अहिजा सभसे ढेर ऊँचाई करीब 240 मीटर बा।
  2. सोमेश्वर श्रेणी: त्रिवेणी नहर की उद्गम से ले के भिखनाठोरी ले लगभग 75 वर्ग किलोमीटर में बिहार आ नेपाल की सीमा की रूप में ई पहाड़ी बाड़ीं सब जेवना में सोमेश्वर, भिखनाठोरी आ मरवत दर्रा बाटें आ एहकर सभसे ऊँच चोटी 874 मीटर बाटे।
  3. दून घाटी (हरहा नदी): ई घाटी रामनगर दून आ सोमेश्वर श्रेणी की बिचा में बाटे, ए के हरहा नदी के घाटी भी कहल जाला।

गंगा मैदान[संपादन]

बिहार में गंगा के बिचला मैदान पड़ेला आ एहू के दू हिस्सा में बाँटल जाला उत्तरी बिहार क मैदान आ दक्खिनी बिहार क मैदान।

  1. उत्तरी गंगा के मैदान: के निर्माण नेपाल से उतरे वाली नदिन कि निक्षेप से भइल बा। सामान्य ढाल उत्तर पच्छिम से दक्खिन पूरुब की ओर बाटे आ औसत ऊंचाई 66 मीटर बा। ई मैदान के घाघरा-गंडक दुआब, गंडक-कोसी दुआब, आ कोसी-महानंदा दुआब में बाँटल जाला। बाढ़ की मैदान में दियारा पावल जाला आ नदी की धारा के एहर-ओहर हटला से चौरी आ छारण जइसन स्थलरूप बनल बाने।
  1. दक्खिनी गंगा मैदान: के बिस्तार छोटा नागपुर की पठारी हिस्सा की उत्तरी किनारा से शुरू हो के उत्तर में गंगा नदी ले बा। मैदान पच्छिम में ढेर चौड़ा बाटे आ पूरुब ओर जाके राजमहल पहाड़ी की कारन सांकर हो गइल बा। औसत ढाल दक्खिन से उत्तर की ओर हवे आ सोन, कर्मनाशा, आ पुनपुन प्रमुख नदी हईं। गंगा-सोन दुआबा, मगध मैदान आ अंग मैदान एकर तीन गो उपबिभाग हवे।

नदी-झील सभ[संपादन]

बिहार के नदी सभ आ अउरी जल समूह
कैमूर में तेलहर झरना
राजगीर के पहाड़ी क एगो दृश्य
  • सोता
    • मँझार कुण्ड
    • दुआ कुण्ड
    • सीता कुण्ड
    • रिसी कुण्ड
    • उत्तरी कुण्ड
  • झील
    • अनुपम ताल]
    • खडगपुर झील

पहाड़ी सभ[संपादन]

बिहार के सभसे दक्खिनी हिस्सा में कई गो पहाड़ी बा जेवना में कुछ प्रमुख पहाड़ी बाड़ीं:

  • राजगीर के पहाड़ी
  • बरबर के पहाड़ी
  • बटेश्वर पहाड़ी
  • कैमूर श्रेणी
  • ब्रह्मयोनी पहाड़ी
  • प्रेतशिला पहाड़ी
  • रामशिला पहाड़ी

प्रशासनिक/राजनीतिक विभाजन[संपादन]

बिहार में 38 गो जिला बा जेवन 9 गो प्रमंडल में ग्रुप कइल बाटे:

बिहार के जिला मानचित्र
प्रमंडल मुख्यालय जिला
भागलपुर भागलपुर बाँका, भागलपुर
दरभंगा दरभंगा दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर
कोशी सहरसा मधेपुरा, सहरसा, सुपौल
मगध गया अरवल, औरंगाबाद, गया, जहानाबाद, नवादा
मुंगेर मुंगेर जमुई, खगडिया, मुंगेर, लखीसराय, शेखपुरा, बेगुसराय
पटना पटना भोजपुर, बक्सर, कैमुर, पटना, रोहतास, नालंदा
पूर्णिया पूर्णिया अररिया, कटिहार, किशनगंज, पूर्णिया
सारण छपरा गोपालगंज, सारण, सिवान
तिरहुत मुजफ्फरपुर पुर्वी चम्पारण, मुजफ्फरपुर, शिवहर, सीतामढी, वैशाली, पश्चिम चम्पारण

जलवायु[संपादन]

बिहार के जलवायु नम उपोष्ण कटिबंधी जलवायु (Cwa) हवे। इहाँ जाड़ा में ख़ूब ठंढा मौसम रहेला आ तापमान 0 से 10 डिग्री ले नीचे गीर जाला। जाड़ा में बरखा पच्छिमी विक्षोभ से पैदा चक्रवात से होला। फरवरी कि अंत से ले के अप्रैल ले मौसम बसंत के होला आ सुहावन होला। अप्रैल की बाद गर्मी पड़े शुरू होला आ मई की अंत ले ख़ूब गर्मी पड़ेला जेवना में तापमान 45 डिग्री ले ऊपर पहुँच जाला। मई में लोकल झंझावात से बरखा भी होला। एकरी बाद मानसून के सीजन आ जाला आ बरखा के शुरुआत होला जेवन सितंबर की शुरुआत ले चलेला। बिहार में 150 से 200 सेंटीमीटर ले बरखा होला। अक्टूबर-नवंबर के मौसम सुहावन होला आ फिर नवंबर से जाड़ा शुरू हो जाला।

बन क्षेत्र[संपादन]

बिहार की 5,558 वर्ग किलोमीटर हिस्सा में बन क्षेत्र बा जेवना में 76 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र पर बहुत घन बन बा। बिहार की कुल रकबा के 5.9% क्षेत्र पर बन बाटे।

प्राकृतिक आफत[संपादन]

2008 बिहार के बाढ़ि के एगो दृश्य

संदर्भ[संपादन]

  1. "GSI - Eastern Region". Geographical Survey of India, Government of India. पहुँचतिथी 16 मार्च 2015.