विकिपीडिया:हटावे लायक लेख

विकिपीडिया से
सीधे इहाँ जाईं: नेविगेशन, खोजीं

पन्ना हटावे खातिर चर्चा अइसन स्थान हवे जहाँ सदस्य/प्रयोगकर्ता लोग कौनों पन्ना के हटावे खातिर चर्चा करे ला।

अइसन कौनों पन्ना के हटावे खातिर नामिनेशन (नामांकन) कइल जाला। नामांकन की बाद ओह पर कम से कम एक हफ्ता ले ई चर्चा होले कि एके हटावल जाय या रहे दिहल जाय। चर्चा में तर्क आ सन्दर्भ के महत्व दिहल जाला केहू कि व्यक्तिगत राय के कम महत्व दिहल जाला।

ई चर्चा एक हफ्ता से आगे भी बढावल जा सकेले अगर एम्में नामांकन करे वाला की आलावा अउरी केहू भाग न ले या फिन एक हफ्ता में इ फ़ैसला न हो पावे। विकिपीडिया कौनों लोकतंत्र न हवे जहाँ वोट से फ़ैसला होखे बलुक ई भरपूर कोसिस कइल जाला कि कौनों निर्णय आम सहमति से होखे।

नामांकन/नामिनेशन[संपादन]

नामांकन से पहिले[संपादन]

  • अगर पन्ना हटावे खातिर नीति में बतावल विकल्प से या फिन कौनों अउरी तरीका से पन्ना के अइसन स्थिति में ले आइल जा सकत बा कि ओके मेटावे के न पड़े त ऊ काम करे के चाहीं जेवना से पन्ना के हटावे के न पड़े।
  • अगर कौनों पन्ना पन्ना हटावे खातिर नीति कि अंतर्गत तुरंत हटावे लायक बा त ओही में नामांकन होखे के चाहीं चर्चा में ना।

नामांकन[संपादन]

एगो पन्ना क नामांकन[संपादन]

प्रथम चरण नामस्थान अनुसार नीचे दिहल साँचवन में से उचित साँचा पन्ना पर लगावल जाई:

साँचा लगावत घरी कारण प्राचल(पैरामीटर) में नामांकन क कारण जरूर दिहल जाव। उदाहरण: {{हचर्चा लेख|कारण=ई लेख ज्ञानकोश लायक नइखे}}

दुसरा चरण जेवन नामांकन साँचा लगावल गइल बा ओम्मे दिहल नामांकन प्रक्रिया की अनुसार चर्चा (बातचीत) पन्ना के बनावल जाय। अगर बातचीत पन्ना पहिलहीं से मौजूद बाटे तब नामांकन साँचा में बतावल तरीका से चर्चा पृष्ठ की अंत में नामांकन जोड़ दिहल जाय।
तृतीय चरण पन्ना बनावे वाला योगदानकर्ता के हचर्चा नामांकन क सूचना साँचा में दिहल तरीका की अनुसार जरूर दिहल जाय।

नोट:सदस्य लोग विकिपीडिया:ट्विंकल कि हचर्चा विकल्प की उपयोग से भी ई कार कइ सकत बाटे जेवन लगभग आटोमेटिक हो जाला।

एगो से ढेर पन्ना क नामांकन[संपादन]

  • बाकी पन्ना में नामांकन करे खातिर उचित साँचा लगावल जाय। साँचा लगावत घरी उचित कारण सही तरीका से दिहल जाय आ चर्चा पन्ना क नाँव स्पष्ट रूप से बतावल जाय।

नामांकन की बाद[संपादन]

  • अगर एक बेर कौनों पन्ना क इहाँ नामानाकन हो गइल त पन्ना के हटावे से रोकला क एकही तरीका बा कि इहाँ चर्चा में फैसला होखे, फ़ैसला भइला से पहिले अउरी कौनो तरीका या विकल्प आ अपनावल जा सकेला।
  • चर्चा पर एक हफ्ता बाद केहू प्रबंधक/प्रशासक चर्चा की परिणाम (निष्कर्ष) क निर्णय ले सकेला। जरूरत होखे त पहिलहूँ ई काम हो सकेला अगर पन्ना तुरंत हटावे लायक पावल गइल बा।

पन्ना हटावे खातिर चर्चा में योगदान[संपादन]

विकिपीडिया एगो अइसन ज्ञानकोश हवे जहाँ सभे सदस्य लोग अपनी इच्छा से स्वयंसेवक (वालंटियर) की रूप में योगदान करा बा। एही से अलग-अलग लोगन क राय अलग-अलग होखला की बाद भी ई धियान रखे के चाहीं कि चर्चा में कौनों किसिम क कटुता न पैदा होखे। एकरी खातिर कुछ साधारण आ सर्वमान्य नियम का हमेशा घियान रक्खे के चाहीं:

  • केहू पर व्यक्तिगत हमला ना - अगर कहो से राउर असहमति बाटे तब्बो केहू पर व्यक्तिगत हमला मत करीं, हमेशा याद रखीं कि कौनों कटु भाषा क प्रयोग न होखे।
  • नकारात्मक सोच आ दृष्टिकोण ना - अगर पहिले केहू संघे राउर मतभेद रहल तब्बो ई बात क चर्चा पर असर न पड़े, केहू से चर्चा की दौरान समस्या सुल्झावे क कोशिस होखे के चाहीं न कि खाली तर्क-वितर्क आ हारा-तूजी।
  • नकारात्मक टिप्पणी ना - कौनों बिसय आ बय्क्ति पर कौनों नकारात्मक टिप्पणी मत करीं, सन्दर्भ आ स्रोत पर आधारित तार्किक आ तटस्थ बात करीं।
  • कठपुतली ना - एकही आदमी एगो से अधिक खाता क प्रयोग करे त ई कठपुतली खाता क प्रयोग खातिर ओके प्रतिबंधित कइल ज सकेला।
  • तर्कहीन बात/टिप्पणी ना - आपन बात तर्क सहित तटस्थ होके रक्खीं।

हचर्चा बंद कइल[संपादन]

  • चर्चा सामान्य स्थिति में कम से कम एक हप्ता चले दिहल जाय।
  • चर्चा बंद करे से पहिले ई देख लिहल जाय कि कम से कम दू लोग (नामांकन करे वाला की आलावा) आपन बात जरूर रखले होखे।
  • केहू प्रबंधक एक हप्ता बाद चर्चा के बंद कर सकत बा आ आपन राय दे के निष्कर्ष घोषित क सकत बा।
  • अगर बहुत लम्बा चर्चा चले या बहुत समय लगे त दू बरिस या दू हजार संपादन कि बाद केहू वरिष्ठ (विकिपीडिया पर ढेर दिन से सक्रिय) सदस्य एके बंद करा सकत बा आ आपन राय प्रबंधक के बता देवे।
  • चर्चा बंद करे खातिर साँचा--
    • {{subst:हचर्चा शुरू|परिणाम}} --~~~~  ई साँचा नामांकन पन्ना पर सबसे ऊपर लागी आ परिणाम की जगह ए चर्चा में निकलल निष्कर्ष लिखल जाई।
    • {{subst:हचर्चा अंत}}  ई साँचा सबसे नीचे लगी आ चर्चा की खतम भइला क सूचक होई।
  • अगर लेख के चर्चा कि बाद हटावल न जाय त ओकरी ऊपर साँचा लगा दिहल जाय जेवना से ई पता चले की एके हटावे खातिर चर्चा हो चुकल बाटे।

चर्चा कुल[संपादन]

अउरी संबंधित पन्ना[संपादन]