इसरो

विकिपीडिया से
सीधे इहाँ जाईं: नेविगेशन, खोजीं
इसरो
भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन
Indian Space Research Organisation Logo.svg
ISRO logo
Owner भारत सरकार
Established 15 अगस्त 1969 (1969-08-15)
(1962 में INCOSPAR के नाँव से)
Headquarters बंगलौर, कर्नाटक, भारत
Primary spaceport सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र, श्रीहरिकोटा, आंध्र प्रदेश
Motto मानव जाति की सेवा में अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी (हिंदी)
Budget Increase 90.94 billion (US$1.4 billion)(2017–18 est.)[1][2]
Website isro.gov.in

इसरो (पूरा नाँव भारतीय अंतरिक्ष रिसर्च संगठन) भारत सरकार के अंतरिक्ष एजेंसी हवे। एकर मुख्यालय बंगलौर, कर्नाटक में बा। एह एजेंसी के मकसद "राष्ट्रीय बिकास खातिर अंतरिक्ष टेक्नोलॉजी के सदुपयोग" कइल बा, जेवना खातिर ई अंतरिक्ष बिज्ञान में रिसर्च आ ग्रह-उपग्रह सभ पर खोज के काम करे ले।[3]

साल 1969 इसरो के गठन भइल आ ई 1962 में भारत के पहिला परधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू आ उनके नजदीकी रहल बैज्ञानिक विक्रम साराभाई स्थापित के प्रयास से 'अंतरिक्ष रिसर्च खातिर भारतीय राष्ट्रीय कमेटी' (INCOSPAR) के जगह लिहलस। इसरो के गठन से भारत में अंतरिक्ष रिसर्च के संस्थागत रूप मिल गइल।[4] ई भारत सरकार के अंतरिक्ष बिभाग के अधीन काम करे ले आ अंतरिक्ष बिभाग खुद सीधे परधानमंत्री के रिपोट करे ला।

इसरो भारत के पहिला अंतरिक्ष यान "आर्यभट" बनवलस, जेकरा के सोवियत यूनियन के द्वारा 19 अप्रैल 1975 के छोड़ल गइल। एह यान के नाँव भारतीय गणितज्ञ आर्यभट के नाँव पर रखल गइल रहे। 1980 में 'रोहिणी' पहिला अइसन उपग्रह रहे जेकरा के भारतीय लॉन्च वीकल एसएलवी-3 से अंतरिक्ष में भेजल गइल। एकरे बाद इसरो द्वारा पीएसएलवी आ जीएसएलवी के निर्माण भइल जे क्रम से उपग्रह सभ के ध्रुवीय कक्षा आ धरती समकालिक कक्षा में स्थापित करे खातिर बनावल गइल बाने। इसरो इनहन के मदद से कइयन ठे देसी आ बिदेसी उपग्रह अंतरिक्ष में स्थापित कऽ चुकल बाटे। साल 2014 में इसरो सफलता के साथ देसी क्रायोजेनिक इंजन (सीई-20) के इस्तेमाल जीएसएलवी-5 में कइलस आ जीसैट-14 के अंतरिक्ष में पहुँचावे में सफल भइल।[5][6]

इसरो आपन चंद्रपरिकरमा यान चंद्रयान-1 के 22 अक्टूबर 2008 के आ एक ठो मंगलपरिकरमा यान, मंगलयान भेजलस जे 24 सितंबर 2014 के मंगल के कक्षा में स्थापित भइल आ भारत अइसन पहिला देस बनल जे अपने पहिले बेर के कोसिस में ई सफलता पा लिहलस।[7][8]

इसरो द्वारा भबिस्य में जीएसएलवी एमके III के निर्माण के योजना बा जवना से कि अउरी भारी वजन वाला उपग्रह छोड़ल जा सकें। एकरे अलावा यूएलवी, दुबारा इस्तमाल लायक लॉन्च बिमान, मानवसहित अंतरिक्षबिमान, चंद्रयान-2, अंतरग्रहीय प्रोब, सूर्य मिशन (आदित्य) इत्यादि के भी योजना बाटे।[9] 18 जून 2016 इसरो एक्के साथ 20 गो उपग्रह अंतरिक्ष में भेज के अपना तरह के एक ठो रेकार्ड बना दिहलस, एह बीस गो में एक ठो उपग्रह गूगल के भी रहल।[10] एकरे बाद 15 फरवरी 2017 के इसरो एक्के साथ 104 उपग्रह सभ के एक्के रॉकेट (पीएसएलवी-सी37) से अंतरिक्ष में भेज के बिस्व रेकार्ड बना दिहलस।[11][12]

18 मई 2017 के इसरो के इंदिरा गाँधी शांति पुरस्कार दिहल गइल। ई पुरस्कार साल 2014 खातिर, दिल्ली में पूर्व परधानमंत्री मनमोहन सिंह, 'इंदिरा गाँधी ट्रस्ट' के ट्रस्टी के हैसियत से एक ठो समारोह में दिहलें।[13][14] अगिला अठारह महीना में इसरो तीन गो उपग्रह लॉन्च करे वाला बा जेवना से इंटरनेट के स्पीड में बढ़ती होखी।[15]

इहो देखल जाय[संपादन]

संदर्भ[संपादन]

  1. http://indiabudget.gov.in/ub2017-18/eb/sbe91.pdf
  2. "As US, Russia eye stagnant space budgets, India ramps up investment". 
  3. "ISRO – Vision and Mission Statements"; ISRO. 
  4. Eligar Sadeh (11 February 2013); Space Strategy in the 21st Century: Theory and Policy; Routledge; pp. 303–; ISBN 978-1-136-22623-6. 
  5. "GSLV-D5 – Indian cryogenic engine and stage" (PDF); Official ISRO website; Indian Space Research Organisation; पहुँचतिथी 29 September 2014. 
  6. "GSLV soars to space with Indian cryogenic engine"; Spaceflight Now; 5 January 2014; पहुँचतिथी 29 September 2014. 
  7. "पहली ही कोशिश में मंगल तक पहुंचा भारत"; नवभारत टाईम्स; 24 सितंबर 2014; पहुँचतिथी 24 सितंबर 2014. 
  8. Thomas, Arun; "Mangalyan"; CNN. 
  9. "About ISRO – Future Programme"; Indian Space Research Organisation; पहुँचतिथी 29 September 2014. 
  10. Pallav Bagla (22 June 2016); "India Launches Record 20 Satellites in 26 Minutes, Google Is A Customer". 
  11. "ISRO sends record 104 satellites in one go, becomes the first to do so."; The Economic Times; पहुँचतिथी 15 February 2017. 
  12. Barry, Ellen (15 February 2017); "India Launches 104 Satellites From a Single Rocket, Ramping Up a Space Race"; The New York Times; ISSN 0362-4331; पहुँचतिथी 15 February 2017. 
  13. http://www.thehindu.com/sci-tech/science/isro-gets-indira-gandhi-prize-for-2014/article18492069.ece
  14. http://www.outlookindia.com/newsscroll/dr-manmohan-singh-presents-indira-gandhi-prize-for-peace-to-isro/1054017
  15. http://www.business-standard.com/article/current-affairs/faster-internet-isro-to-launch-3-satellites-in-18-months-to-boost-speed-117051800314_1.html

बाहरी कड़ी[संपादन]