ब्रिजमेनाइट

विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

ब्रिजमेनाइट चाहे सिलिकेट पेरोव्सकाइट (अंग्रेजीSilicate perovskite) धरती पर पावल जाए वाला सबसे ढेर मात्रा में खनिज हवे। ई खनिज बहुत ढेर घनत्व वाला मैग्नीशियम-आ-लोहा के सिलिकेट होला जेवन धरती की अंदर 670 से 2700 किलोमीटर की गहिराई में पावल जाला। एकर नाँव 2014 में ब्रिजमेनाइट धराइल जब पहिली बेर एकर नमूना सन् 1879 में आस्ट्रेलिया में गिरल एगो उल्कापिंड से पावल गइल। काहें से की धरती पर अभिन ले एकर कौनों नमूना ना मिलल रहल आ जबले प्राकृतिक रूप से कौनों खनिज के नमूना न मिल जाय ओकर नाँव न धराला।

एकर नमूना क खोज अमेरिका की नेवादा इन्वरसिटी के खनिज बिग्यानी ओलिवर शाउनर के टीम कइलस आ ई सांइस में नवंबर 2014 में छपल[1]

नाँव[संपादन]

ब्रिजमेनाईट नाँव अमेरिका की भौतिकबिग्यानी पर्सी ब्रिजमैन की की सम्मान में रखल गइल जे 1946 में उच्च दाब वाली भौतिकी की छेत्र में नोबेल पुरस्कार पवले रहलें।


संदर्भ[संपादन]

  1. Tschauner, Oliver. "Discovery of bridgmanite, the most abundant mineral in Earth, in a shocked meteorite". साइंस. 346 (6213): pp. 1100-1102. doi:10.1126/science.1259369. |first2= missing |last2= in Authors list (मदद)CS1 maint: Extra text (link)