सेंट पीटर्स बसिलिका

विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
एगो सुफेद बिल्डिंग आ गोल गुंबद
सोझा के ओर, सेंट पीटर्स चौराहा से देखले पर सेंट पीटर्स बसिलिका

सेंट पीटर्स बसिलिका (St. Peter's Basilica) इटली के राजधानी रोम के भीतर ईसाई धर्म के सभसे बड़ अगुवा पोप के निवास आ अलग देस मानल जाए वाला वेटिकन शहर में एगो चर्च बाटे। ई पोप के चर्च सभ में गिनल जाला आ कैथोलिक ईसाई धर्म के सभसे प्रमुख आ पबित्र अस्थान मानल जाला। रेनासां इस्टाइल में बनल एह चर्च के डिजाइन दोनातो ब्रामांते, माइकलएंजेलो, कार्लो माडर्नो आ जियान लोरेंजो बरनिनी के बनावल हवे आ ई अंदरूनी हिस्सा के मोताबिक दुनियाँ के सभसे बड़हन चर्च हवे।

कैथोलिक परंपरा माने ले की एहिजे संत पीटर के समाधी दिहल गइल रहे। संत पीटर यीशु के सभसे प्रिय चेला लोग (एपोस्टल) लोगन में रहलें आ रोम के पहिला बिशप रहलें। संत पीटर के समाधी एह चर्च के अल्तार के ठीक नीचे मानल जाले। एह अस्थान पर चर्च के निर्माण रोम के सम्राट कांस्टेनटाइन महान के दौर में भइल आ पुरनका सेंट पीटर्स चर्च के 4थी सदी में के बनल मानल जाला। एही के अस्थान पर ई बर्तमान चर्च बनल जेकरे बनावे के काम 18 अप्रैल 1506 में शुरू भइल आ 18 नवंबर 1626 के पूरा भइल।

ई ईसाई लोग के परसिद्ध तीरथ हवे। एकरे ठीक सोझा सेंट पीटर्स चौराहा बा। एह जगह आ परिसर के यात्रा सालाना करीब 15,000 से 80,000 लोग करे ला। तीरथ के अलावा ई अपना समय के सभसे बेहतरीन भवन सभ में गिनल जाला।