राहत इंदौरी

विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
राहत इंदौरी
जनम राहत कुरैशी
(1950-01-01) जनवरी 1, 1950 (उमिर 72)
इंदौर, मध्य प्रदेश, भारत
निधन 11 अगस्त 2020(2020-08-11) (उमिर 70) दिल क दौरा
इंदौर, मध्य प्रदेश, भारत
पेशा उर्दू शायर, गीतकार
राष्ट्रियता भारतीय
नागरिकता भारतीय
शिक्षा उर्दू साहित्य में स्नातकोत्तर एवं पीएचडी
बिधा गज़ल, नज़्म, गीत
जीवनसाथी सीमा रहत आ अंजुम रहबर
संतान शिबली, फैसल, सतलज

राहत क़ुरैशी (1 जनवरी 1950 — 11 अगस्त 2020), जे आपन कलमनाँव राहत इंदौरी से जानल जाँय, एगो भारतीय शायर आ हिंदी फिल्मन के गीतकार रहन।[1]देवी अहिल्या विश्वविद्यालय, इंदौर में उर्दू साहित्य के प्राध्यापक भी रहन। 11 अगस्त 2020 के उनकर निधन हो गयल।[2]

प्रारंभिक जीवन एवं शिक्षा[संपादन करीं]

राहत क जनम 1 जनवरी 1950 के इंदौर में रफ्तुल्लाह कुरैशी आ मकबूल उन निशा बेगम के इहाँ भयल। इनकर पिता कपड़ा के कारख़ाने में कर्मचारी रहन। इ अपने माता पिता क चौथी संतान रहन। परिवार क आर्थिक स्थिति खराब होइले से उनके बहुत समस्या क सामना करल पड़ल। 10 साल के उमिर में ही उ साइन चित्रकारी क काम करे लगन।[3] उनकर शुरूआती शिक्षा नूतन स्कूल इंदौर में भइल। इस्लामिया करीमिया कॉलेज इंदौर से 1973 में आपन स्नातक क पढ़ाई पूरा कइन[4] आ 1975 में बरकतउल्लाह विश्वविद्यालय, भोपाल से उर्दू साहित्य में एमए कइन।[5] बाद में बरकतुल्ला विश्वविद्यालय से उर्दू साहित्य में स्नातकोत्तर क पढ़ाई कइन आ 1985 में मध्य प्रदेश के भोज विश्वविद्यालय से उर्दू साहित्य में पीएचडी क शिक्षा पूरा कइन। उर्दू मुख्य मुशायरा नामक उनकर थीसिस ह जेकरे खातिर उनके सम्मानित भी कयल गयल।[6]

प्रगति[संपादन करीं]

राहत इंदौरी अपने शुरुआती दिनन में इंद्रकुमार कॉलेज, इंदौर में उर्दू साहित्य क अध्यापन करे लगन। बाद में मुशायरा भी शुरू कइन। जल्दी ही उनके ख्याति भी मिले लगल। कुछ ही समय में उ उर्दू साहित्य क प्रसिद्ध शायर बन गइन। उ खेलकूद में भी तेज रहन, स्कूल आ कॉलेज स्तर पर फुटबॉलहॉकी टीम के कप्तान भी रह चुकल बाटें।[7][8]

निधन[संपादन करीं]

10 अगस्त 2020 के उ कोरोनावायरस के लिए सकारात्मक पावल गइनअ। फिर उनके मध्य प्रदेश के इंदौर के अरबिंदो अस्पताल में भर्ती करावल गयल। जहां 11 अगस्त 1020 के उनकर निधन हो गइल।[9][10][11]

रचना[संपादन करीं]

किताब संदर्भ.
रूत
दो कदर और साही [12]
मेरे बाद [13]
धूप बहुत है [14]
चांद पागल है [15]
मौज़ूद [16]
नाराज़ [17]

संदर्भ[संपादन करीं]

  1. मिश्रा, अम्ब्रीश. "MP's Bollywood connection grows behind the camera" [कैमरे के पीछे बॉलीवुड का मध्य प्रदेश से जुड़ाव में बढ़ रहा]. इंडिया टुडे (in English). Retrieved 2020-08-13.
  2. "राहत इंदौरी क निधन, कोरोना संक्रमण के बाद थे भर्ती". बीबीसी हिन्दी (in Hindi). 2020-08-11. Retrieved 2020-08-13.
  3. "राहत इंदौरी का जीवन परिचय और रचनाएं Rahat Indori Biography and Poetry in Hindi". www.bharatdarshan.co.nz.
  4. "संग्रहीत प्रति" (in English). Archived from the original on 12 अक्टूबर 2010. Retrieved 27 मार्च 2014.
  5. "Urdu doyen Rahat Indori passes away due to coronavirus, leaves behind fiery verse - Rest in peace" [उर्दू डीन राहत इन्दौरी कोरोना वायरस से गुजर गइन, आपन उग्र वचन छोड़ गइन - शान्ति मिले]. द इकोनोमिक टाइम्स (in English). Retrieved 2020-08-13.
  6. "14 Exceptional Shayris By Rahat Indori That Are Full Of Wisdom" (in American English). 30 July 2016. Retrieved 31 जुलाई 2016.
  7. "जानिए राहत कुरैशी के राहत इंदौरी बनने तक की पूरी कहानी, कितनी की थी शादियां". दैनिक जागरण (in Hindi). Retrieved 2020-08-12.
  8. "इंदौर में ऑटो चलाते थे कामिल के अब्बा, बच्चे का नाम बदलकर राहत उल्लाह रखा, वह बना शहर की साहित्यिक पहचान". दैनिक भास्कर (in Hindi). 11 अगस्त 2020.
  9. "Rahat Indori dies of cardiac arrest in Indore after testing coronavirus positive". इंडिया टुडे. 11 अगस्त 2020. Retrieved 11 अगस्त 2020.
  10. तिवाड़ी, तरुण (11 अगस्त 2020). "Indore: Legendary poet Rahat Indori dies of COVID-19". फ्री प्रेस जरनल इंडिया. Retrieved 11 अगस्त 2020.
  11. "Noted Urdu Poet Rahat Indori Tests Positive for Covid-19, Admitted to Hospital". न्यूज़18. 11 अगस्त 2011. Retrieved 11 अगस्त 2020.
  12. "I Want an India Where Peace and Love Prevails: Rahat Indori" (in English). 30 मार्च 2019. Retrieved 16 अगस्त 2020.
  13. जांगड़ा, विकास. "पुस्तक समीक्षाः राहत इंदौरी की 'रुत'". Amar Ujala (in Hindi). Retrieved 16 अगस्त 2020.
  14. PTI (8 मई 2019). "Young writers, Urdu veterans dominate Hindi bestseller list". National Herald (in English). Retrieved 16 अगस्त 2020.
  15. "Collection of new Hindi books to be released at Swami Vivekananda Library". The Pioneer (in English). 19 जनवरी 2019. Retrieved 16 अगस्त 2020.
  16. IANS (16 नवंबर 2016). "राहत इंदौरी की नई किताब 'मेरे बाद' का लोकार्पण". NDTVIndia (in Hindi). Retrieved 16 अगस्त 2020.
  17. शर्मा, प्रियंका (2 जनवरी 2019). "बर्थडे विशेष- राहत इंदौरी, 'किसी के बाप का हिंदुस्तान थोड़ी है'". aajtak.intoday.in (in Hindi). Retrieved 16 अगस्त 2020.

बाहरी कड़ियाँ[संपादन करीं]