मरद (रिश्ता)

विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

मरद (रिश्ता के अरथ में), सवाँग भा पति शादी के रिश्ता में मरदाना बेकति होला। मरद-मेहरारू के नाता में मरद के अपना मेहरी के खाती कुछ सामाजिक सांस्कृतिक जिम्मेदारी आ करतब होलें जे जगह आ समय अनुसार अलग-अलग संस्कृति में अलग-अलग किसिम के पावल जालें। पुरुष प्रधान समाज में मरद के ढेर अधिकार मिलल होखे लें जबकि औरतवादी बिचारधारा के लोग एह रिश्ता में बराबरी के हामी होला।