जॉन मिल्टन

विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
जॉन मिल्टन
John-milton.jpg
पोर्ट्रेट, लगभग 1629 के समय के।
मूलभाषा में John Milton
जनम (1608-12-09)9 दिसंबर 1608
ब्रेड स्ट्रीट, चीपसाइड, लंदन, इंग्लैंड
निधन 8 नवंबर 1674(1674-11-08) (उमिर 65)
बनहिल, लंदन, इंग्लैंड
समाधी सेंट गिल्स-विदाउट-क्रिपलगेट
पेशा कवी, निबंधकार, सिविल सेवक
भाषा अंगरेजी
राष्ट्रीयता अंगरेज
मूल पाठशाला क्राइस्ट कॉलेज, कैंब्रिज
प्रमुख रचनासभ पैराडाइज लॉस्ट

दसखत

जॉन मिल्टन (John Milton, 9 दिसंबर 1608 – 8 नवंबर 1674) एगो अंगरेज कवि, बिद्वान आ सिविल सर्वेंट रहलें। सिविल सेवा में ई ओलिवर क्रूमवेल के जमाना के कॉमनवेल्थ ऑफ इंग्लैंड खाती आपन सेवा दिहलें। धार्मिक आ राजनीतिक उठान के जुग में आपन रचना कइलें आ इनके परसिद्धी इनके लमहर कबिता पैराडाइज लॉस्ट (1667) जे ब्लैंक वर्स में लिखल एगो महाकाब्य नियर कबिता हवे।

मिल्टन के कबिता आ निबंध में गहिराई ले निजी निश्चय के भाव झलके ला, आजादी आ खुद के निश्चय, अउरी ओह जमाना के राजनीतिक उथलपुथल के झलक भी मिले ला। मिल्टन अंगरेजी के अलावा, लैटिन, ग्रीक, आ इटैलियन भाषा में लिखलें आ अपना जिनगिये में उनके अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर परसिद्धी मिलल आ उनके रचना एरोपैगाइटिका (1644), जे छपे से पहिलहीं रोक (सेंसर) के बिरोध में लिखल गइल रहे, बहुत परसिद्ध भइल आ इतिहास के कुछ बहुत परभावकारी रचना सभ में गिनल जाले, बोले के आजादी आ प्रेस के आजादी के पक्ष में प्रबल रूप से आवाज उठावे वाली रचना मानल जाले।

संदर्भ[संपादन]

बाहरी कड़ी[संपादन]