जेट एयरवेज

विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

जेट एयरवेज एयरलाइन मुंबई, भारत में आइल बा। इ फरवरी, 2016 ले 21.2% बाजार की हिस्सा की साथ इंडिगो की बाद भारत क दूसरा सबसे बड़ एयरलाइन कम्पनी रहल ह। इ छत्रपति शिवाजी टर्मिनस हवाई अड्डा के आलावा दुनिया भर में कईगो हवाई अड्डा से प्रतिदिन करीब 300 जहाज क संचालन करे ले।

1992 में सिमित जवाबदेही कंपनी की तौर पर शुरू होखले की बाद इ कम्पनी सन् 1993 एयर टैक्सी क शुरुआत कइलस। 1995 से इ पूरा तरह से विमान सेवा शुरू कइलस आ सन् 2004 में एकर विदेश खातिर सेवा शुरू भइल। बाद में इ एयर सहारा क अधिग्रहण कइलस और सन् 2010 में इ देश क सबसे बड़ विमान कम्पनी बनल रहे, जबले की इ इंडिगो से ए मामला में 2012 में पिछड़ नाहीं गइल।

इतिहास[संपादन]

इ विमान कम्पनी 5 मई 1993 के एयर टेक्सी संचालक की तौर पर शुरुआत कइलस। एके 14 जनवरी 1995 के अनुसूचित विमान सेवा क दर्जा मिलल। 12 मई 1994 के एकर सब शेयर टेलविंड्स इंटरनेशनल के स्थानांतरित करा गइल जेमें नरेश गोयल क 60% शेयर, गल्फ एयर क 20% और कुवैत एयरवेज क 20% शेयर रहे। ऑक्टोबर 1997 में, नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा विमान क्षेत्र में विदेशी निवेश पर रोक लगवले की बाद नरेश गोयल कम्पनी क पूरा नियंत्रण अपनी हाथ में ले लिहने। ए कम्पनी क विदेश खातिर पहिला विमान सेवा सन् 2004 में चेन्नई से कोलम्बो खातिर शुरू भइल।

2006-2009 वृद्धि और विस्तार[संपादन]

जून-2006 में जेट एयरवेज 500 मिलियन डॉलर क दाम देके एयर सहारा के खरीदलस। नवम्बर, 2013 में विदेशी निवेश की मामला में सरकारी निति की बदलाव की बाद एतिहाद एयरलाइन एकर 24% हिस्सा खरीद लिहलस।[1]

कॉर्पोरेट मामला आ पहचान[संपादन]

हेड ऑफिस[संपादन]

ए एयरलाइन क हेड ऑफिस सिरोया सेण्टर, अँधेरी, मुम्बई में आइल बा, जौन की पहिले एगो भाडा प लिहल 6 मंजिल की बिल्डिंग एस. एम्. सेण्टर, अँधेरी में आइल रहे।

वित्तीय मामला[संपादन]

इ कम्पनी बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध बा। एकर 51% शेयर नरेश गोयल की लगे बा आ बाकि 49% शेयर दूसरे निवेशक लोगन की लगे।

गंतव्य स्थान[संपादन]

जेट एयरवेज एयरलाइंस जानकारी

जेट एयरवेज क 48गो देशी आ दुनीया भर की 17 देश में 20गो विदेशी गंतव्य स्थान बा। एकर मुख्य ऑफिस मुंबई में बा और अन्य ऑफिस बैंगलोर, चेन्नई, दिल्ली और कोलकाता में बा। सन् 2005 में शुरू भइल लंदन क सेवा एकर विदेश में सबसे लम्बा दूरी क सेवा रहे।

सन् 2008 में वैश्विक मंदी से भइल नुकसान की चलते जेट एयरवेज के आपन कईगो विदेशी सेवा बंद करेके पड़ गइल, इ आपन सैन फ्राँसिस्को और संघाई क सेवा बंद क दिहल स।

2012 में इ एयरलाइन न्यू यॉर्क क सेवा रोक दिहलस और दिल्ली-मिलान सेवा बंद क दिहलस।

फ्लीट क जानकारी[संपादन]

जेट एयरवेज की फ्लीट में मुख्यरूप से निम्नलिखित जहाज बाड़ी स:

बोईंग 737-400 और 737-800 जवन की 11 दिसम्बर 1996 के ऑर्डर कइल गइल रहे, एमें से पहिला जहाज 12 नवम्बर 1997 के मिलल। एकरी बाद मई 2001 में इ बोईंग 737-900 लिहलस। एकरी बाद आगे की सालन में एटीआर 72-600 देश की अन्दर की रूट पर चलावे खातिर लिहलस। फेर लम्बा रूट खातिर एयरबस ए330-200, एयरबस 330-300 और बोईंग 777-300इ आर लिहलस।[2]

एकरी अलावा औरियो कईगो जहाज जेट एयरवेज की बेड़ा में बाड़ी स।

सुविधा[संपादन]

केबिन[संपादन]

जेट एयरवेज में 3गो श्रेणी में सुविधा उपलब्ध बा: फर्स्ट क्लास, बिजनेस क्लास और इकॉनोमी क्लास।

  • फर्स्ट क्लास खाली बोईंग 777-300इआर में उपलब्ध बा। जेमें सीट पूरा तरह से बेड में बदल सकेला, निजी लेड टीवी और सीट पर बिजली आपूर्ति उपलब्ध बा।
  • प्रीमियर श्रेणी लम्बी दुरी क अन्तर्राष्ट्रीय विमान सेवा में उपलब्ध बा जवन की एयरबस ए330-200 और बोईंग 777-300इआर जहाज की द्वारा संचालित होला। एमें झुके वाला सीट की साथ बेड पर निजी लेड टीवी और सीट पर बिजली आपूर्ति उपलब्ध बा।
  • लम्बा दुरी की सफ़र वाला इकॉनोमी श्रेणी में 32 इंच क फुटरेस्ट की सुविधा की साथ सीट रही। एयरबस ए330-200 और बोईंग 777 में इकोनॉमी श्रेणी की सीट पर एगो निजी टचस्क्रीन वाला एलसीडी टीवी रही।[3][4]<ref>

संदर्भ[संपादन]

  1. "आवर नेटवर्क". जेट एयरवेज. पहुँचतिथी 21 July 2016.
  2. "जेट एयरवेज एयरलाइंस जानकारी". क्लियरट्रिप.कॉम. पहुँचतिथी 21 July 2016.
  3. "दि बोईंग कंपनी". Active.boeing.com. पहुँचतिथी 21 July 2016.
  4. "जेट एयरवेज फ्लीट डिटेल्स एंड हिस्ट्री - Planespotters.net जस्ट एविएशन". Planespotters.net. पहुँचतिथी 21 July 2016.