औरंगजेब

विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मुगल बादशाह
बाबर १५२६ – १५३०
हुमायूँ १५३० – १५४०
१५५५ – १५५६
अकबर १५५६ – १६०५
जहाँगीर १६०५ – १६२७
शहरयार (डि फैक्टो) १६२७ – १६२८
शाहजहाँ १६२८ – १६५८
औरंगजेब १६५८ – १७०७
मुहम्मद आजम शाह (उपाधि वाला) १७०७
बहादुर शाह I १७०७ – १७१२
जहाँदर शाह १७१२ – १७१३
फर्रूखसियर १७१३ – १७१९
रफीउद्दरजात १७१९
शाहजहाँ II १७१९
मुहम्मद शाह १७१९ – १७४८
अहमद शाह बहादुर १७४८ – १७५४
आलमगीर II १७५४ – १७५९
शाहजहाँ III (उपाधि वाला) १७५९ – १७६०
शाह आलम II १७६० – १८०६
जहाँ शाह IV (उपाधि वाला) १७८८
अकबर II १८०६ – १८३७
बहादुरशाह II १८३७ – १८५७
साम्राज्य जे ब्रिटिश राज द्वारा अधिकार में लिहल गइल

मुही-उद-दीन मुहम्मद (3 नवंबर 1618 – 3 मार्च 1707) जिनके औरंगजेब के नाँव से भा जनता के दिहल नाँव आलमगीर (बिस्व बिजेता) के रूप में जानल जाला छठवाँ आ अंतिम परभावशाली मुगल बादशाह रहलें। इनकर शासन 1658 से 1707 में इनका मउअत ले कुल 49 बरिस चलल।

औरंगज़ेब के बिस्तारबादी राजा के रूप में जानल जाला आ इनके समय में मुग़ल साम्राज्य अपना सभसे अधिकतम बिस्तार वाल रहल जब लगभग पूरा भारतीय उपमहादीप पर इनके शासन रहे। इनके जिनगी में दक्खिन ओर लगभग 40 लाख वर्ग किलोमीटर क्षेत्र पर राज्य के बिस्तार भइल आ एक समय में कुल 158 मिलियन (15 करोड़ अस्सी लाख) लोगन पर इनके शासन रहल। ओह समय मुग़ल राज (तत्कालीन भारत) चीन के पाछे छोड़ दिहले रहे आ दुनिया के सभसे बड़ अर्थबेवस्था बन गइल रहल; दुनिया के कुल जीडीपी के चउथाई हिस्सा भारत के रहल।