सोनहरा जुग

विकिपीडिया से
सीधे इहाँ जाईं: नेविगेशन, खोजीं

सोनहरा जुग भा गोल्डन एज (हिंदी: स्वर्ण युग, अंगरेजी: Golden Age) के बिचार के मूल उत्पत्ती यूनानी कथा सभ से हवे, बिसेस रूप से हीडोस के शासन के जुग के गोल्डन एज कहल जाला। यूनानी कथा सभ के मोताबिक इतिहास में पाँच गो जुग रहलें जिनहन के नाँव क्रम से सोना, चानी, काँसा इत्यादि के नाँव पर रखल जाला।

वर्तमान समय में एह शब्दावली के इस्तेमाल कौनों भी देस भा क्षेत्र के इतिहास में शांति आ समृद्धी वाला दौर के बतावे खाती कइल जाला। यानी इतिहास के अइसन दौर जेह में बिबिध परकार के क्षेत्र सभ में बहुत उन्नती भइल होखे। उदाहरण खाती भारत में गुप्त साम्राज्य के प्राचीन भारत के सोनहरा जुग कहल जाला, काहें की एह जमाना में साहित्य, कला, भवन निर्माण आ बिज्ञान इत्यादि के क्षेत्र में बहुत उन्नती भइल रहे।