रबड़

विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

रबड़ एगो अईसन सामान होला जेकरा से कुछु लिखल चीझु चाहे दागि के मिटकावल जाला। ई बहुत आकर अउर रंग के होखेला। कोनो कोनो पेंसिल के पाछे एगो छोट रबड़ लागल रहेला।

रबड़
रबड़ परजोग कईल

सभ से पहिले रबड़ के पेंसिल से लिखला प होखे वाला भूल के मिटकावे ला भईल रहे। बादि मे सेयाहियो के मिटकावे ला रबड़ बनि गइल। सिलेट चाहे ऊज्जर बोर्ड प लिखल मिटकावे ला परजोग होखे अला समानो के रबड़ कहल जाला।

लईकन के खेले ला गमके अला रबड़

इतिहास[संपादन]

पेंसिल मे लागल रबड़

रबड़ से पहिले कुछु मिटकावे ला मोम के परजोग होखत रहे, आ बलुइया पथल के झिटका सभ के परजोग सेयाही से लिखला प होखे अला भूल मे मिटकावे ला होखत रहे। 1770 मे एगो अंगरेजी इंजिनियर एडवर्ड नैरने पहिला बेरा रबड़ बनइलन।