मूल अधिकार

विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

मूल अधिकार भा मौलिक अधिकार (Fundamental rights, फंडामेंटल राइट) कवनो संबिधान द्वारा प्रगट भा निहित रूप[1] से दिहल गइल कुछ मूलभूत अधिकार होखे लें जिनहन के ओह संबिधान के लागू होखे के क्षेत्र में, कौनों कानून बनावत समय भा लागू करत समय जरूर सुरक्षित रखल जाला; अगर कवनो कानून भा बिधान इनहन के कम करे भा एह अधिकारन के हनन करे तब ऊ कानून असंबैधानिक मानल जाला।

एगो जनरल स्वरुप में मूल अधिकार, कौनों संसदीय कानून के निर्माण में सावधानी पूर्वक नीचे दिहल गइल लोग के कुछ अधिकार के संरक्षण सुनिश्चित करे लें:

  • मेजारिटी
  • माइनारिटी
  • हरेक सदस्य
  • नामौजूद (एब्सेंटी), आ
  • एह सगरी लोग के सामूहिक रूप से।[2]

कुछ सर्बस्थानी (युनिवर्सल) मानव अधिकार सभ के पहिचान यूनाइटेड नेशंस के युनिवर्सल डिक्लेयरेशन ऑफ ह्यूमन राइट्स[3], यूनाइटेड नेशंस के नागरिक आ राजनीतिक अधिकार पर युनिवर्सल कोवेनेंट[4][5], या फिर आर्थिक सामाजिक आ सांस्कृतिक अधिकार पर इंटरनेशनल कोवेनेंट में देखल जा सके ला।

इहो देखल जाय[संपादन]

संदर्भ[संपादन]

  1. "Fundamental Right Legal Definition | Merriam-Webster Law Dictionary". Merriam-webster.com. पहुँचतिथी 2017-07-28.
  2. "National Association of Parliamentarians » Fundamental Rights". Parliamentarians.org. पहुँचतिथी 2017-07-28.
  3. "The Universal Declaration of Human Rights". un.org.
  4. "UN Covenant on Civil and Political Rights". Hrweb.org. 1994-07-07. पहुँचतिथी 2017-07-28.
  5. "International Covenant on Civil and Political Rights". OHCHR. 1976-03-23. पहुँचतिथी 2017-07-28.