मगध एक्सप्रेस

विकिपीडिया से
सीधे इहाँ जाईं: नेविगेशन, खोजीं

मगध एक्सप्रेस नई दिल्ली और इस्लामपुर की बीच चले वाली एगो सुपरफास्ट ट्रेन ह। एकर नंबर 12401/12402 ह और इ इस्लामपुर से 16:10 बजे रवाना होले और अगला दिन 11:45 बजे नई दिल्ली पहुंचेले। भूतकाल में, एकर नंबर 2391/2392 रहे और एकर संचालन पूर्वी रेलवे द्वारा कइल जा। अब इ गाड़ी उत्तर रेलवे द्वारा चलावल जाला। इ ट्रेन 1,065 किमी क दूरी तय करेले। इ 20:00 बजे नई दिल्ली से रवाना होले और अगला दिन13:55 बजे इस्लामपुर पहुँचेले। 2402 नंबर मगध एक्सप्रेस नई दिल्ली से इस्लामपुर खातिर यात्रा में 17 घंटा, 55 मिनट क समय ले ले। 2401 नंबर गाड़ी मगध एक्सप्रेस, 16:10 बजे इस्लामपुर से रवाना हो के 11:45 बजे नई दिल्ली पहुंचेले और ए तरह से इस्लामपुर से नई दिल्ली की बीच क दुरी कवर कइले में एके 19 घंटे, 35 मिनट क समय लागेला। एकरी पहिले सोनभद्र एक्सप्रेस नाम क ट्रेन नई दिल्ली से पटना और फेर पटना से नई दिल्ली खातिर चले, विक्रमशिला एक्सप्रेस क शुरूआत होखले की बाद सोनभद्र एक्सप्रेस परिवर्तित कराके मगध एक्सप्रेस हो गईल।[1]

Magadh Express - trainboard

इतिहास[संपादन]

एकरी पहिले, इ ट्रेन विक्रमशिला एक्सप्रेस क बोगी लेके पटना से नई दिल्ली की बीच चले (जवन की अब भागलपुर और नई दिल्ली के बीच नंबर 12367/12368 की साथ अलग से चलतीया) और भागलपुर ले जाव, एकर नंबर 3467/3468 रहे। इ गाड़ी 998 किमी क दूरी 15 घंटा, 5 मिनट में तय करे लेकिन ठहराव वाला जगहन में वृद्धि और कईगो सुपरफास्ट ट्रेन जैसे संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस (संख्या 12393/12394) चालू होखले से विक्रमशिला एक्सप्रेस क महत्व कम हो गईल।

रेल इंजन[संपादन]

नई दिल्ली से पटना की बीच इ ट्रेन में कानपुर क WAP-4 इंजन रहेला और पटना से इस्लामपुर की बीच मुगलसराय क WDM 3A इंजन लागेला और जब ट्रेन विपरीत दिशा में चलेले तबो इंजन क व्यवस्था इहे रहेला।

रेक संरचना[संपादन]

2 GSLR, 1 एसी प्रथम श्रेणी, 1 सेकंड एसी, 2 थर्ड एसी, 11 स्लीपर क्लास, 1 पेंट्री और 6 सामान्य डिब्बा की साथ ए गाड़ी में कुल 24 कोच बा। इ भारतीय इतिहास में सबसे पहिले 24 डब्बा की साथ चले वाली कुछ गिनल चुनल ट्रेन में से एगो रहे।

वर्तमान स्थिति[संपादन]

आनंद विहार टर्मिनल शुरू होखले की बाद, इ गाड़ी ओइजा से आरंभ / समाप्त होखे खातिर सूचीबद्ध भइल, लेकिन इ प्लान ए गाड़ी की गौरवशाली अतीत के मद्देनजर वापस ले लिहल गईल, जब ए रूट पर 12309/12310 राजधानी एक्सप्रेस, सम्पूर्ण क्रांति एक्सप्रेस, विक्रमशिला एक्सप्रेस जईसन ट्रेन की शुरुआत से पाहिले इ एकलौता प्रीमियम ट्रेन रहे।

रेल मंत्री लोगन की तुष्टीकरण की राजनीति की चलते इ गाड़ी आपन महत्व खो दिहलस। जब से ए गाड़ी क विस्तार इस्लामपुर भइल बा तबसे इ गाड़ी लगातार लेट चलेले फेर चाहें अप रूट हो या डाउन। साल 2000 की पहिले की दिन में पटना नई दिल्ली सेक्शन की बीच एकदम टाइम अनुसार चले वाली प्रीमियम गाड़ी रहे।

ए समय में ट्रेन हमेशा 4-5 घंटा लेटे चलेले, सफ़र खातिर दुगो रेक उपलब्ध होखले की चलते, एकरी समय सूची में सुधार क कौनों संकेत नईखे लौकत।

दुर्घटना[संपादन]

2 जनवरी 2010 के घना कोहरा की चलते इटावा शहर की लगे लिच्छवी एक्सप्रेस ट्रेन मगध एक्सप्रेस से टकरा गईल, जेकरी चलते एगो गाड़ी की ड्राईवर सहित कुल 10 आदमी घायल हो गईल।[2]

संदर्भ[संपादन]

  1. "Magadh Express Schedule"; cleartrip.com; पहुँचतिथी 10 जनवरी 2017. 
  2. Khan, Atiq; Balchand, K. (3 जनवरी 2010); "10 killed as trains collide in dense fog in U.P."; दि हिंदू; पहुँचतिथी 17 फरवरी 2015. 

बाहरी कड़ियाँ[संपादन]