भुअरा पेलिकन

विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
एगो नर भुअरा पेलिकन, अमेरिका के फ्लोरिडा में।
एगो बच्चा भुअरा पेलिकन, कैलिफोर्निया के लगे।

भुअरा पेलिकन चिरई सभ के पेलिकन परिवार के एगो चिरई हवे। पेलिकन परिवार के बैज्ञानिक भासा में पेलिकनिडाई कहल जाला जे बड़ साइज के लमहर चोंच वाला चिरई होखे लीं आ इनहन के चोंच के नीचे बड़ साइज के झोरी नियर बनावट होला जेह में ई पानी-कानों के संगहीं मछरी आ अउरी शिकार पकड़ लेलीं आ घोंटे से पहिले पानी आ अउरी फालतू चीज एह झोरी से बाहर निकाल देलीं। भुअरा पेलिकन पेलिकन सभ के अइसन तीन गो प्रजाति सभ में से हवे जे अमेरिकी महादीपन पर पावल जालीं आ साथे साथ दुनिया के अइसन दू गो पेलिकन प्रजाति में से एक हवे जे पानी में बुड़किया मार के आपन शिकार धरे लीं। ई पेलिकन अमेरिका के अटलांटिक किनारा पर नोवा स्कोश्या से ले के अमेजन नदी के मुहाना तक ले, आ प्रशांत महासागरी किनारा पर ब्रिटिश कोलंबिया से ले के उत्तरी चिली तक के इलाका में पावल जालीं जेह में गैलापगोस दीप वाला एरियवो शामिल बाटे। इनहन के मुख्य प्रतिनिधि उपप्रजाति (नॉमिनेट सबस्पीशीज) अपना प्रजनन के काल में सुफेद कपार वाली होलीं जेह में पीयर वाश आ एकदम ऊपरी मुकुट नियर हिस्सा होला। गर्दन आ पंखा गहिरा मैरून-भूअर रंग के होला। गर्दन के ऊपरी हिस्सा पर उज्जर धारी होला, गटई के झोरी के सहारे-सहारे। नर आ मादा दुनों के रूपरंग लगभग एक्के नियर होला बाकी मादा सभ कुछ छोट साइज के होखे लीं। आँखिन के चारों ओर मौजूद गुलाबी चमड़ी प्रजनन काल के अलावा बाकी समय में चटक ना रह जाला बलुक मटियाहूँ रंग के हो जाला।

इनहन के मुख्य भोजन मछरी होखे ला, एकरे अलावा ई कुछ एंफीबियन, क्रस्टासिआन आ कुछ जीवन के अंडा आ कुछ चिरई सभ के छोट चेउआं भी खा लेलें। ई आपन ख़ुद के खतोना सुरक्षित आ आम जगह से कट के होखे वाला इलाका, बहुधा दीप पर, झुंड (कॉलोनी) में बनावे लें, आमतौर पर बलुआ टीला सभ के बनस्पती वाला हिस्सा पर, झाड़ी-झूँटा में, फेड़ पर आ मैंग्रोव सभ में इनहन के खतोना बने ला। मादा एक बेर में दू भा तीन गो अंडा देले जिनहन के रंग दुधिया (चाक) नियर उज्जर होला। अंडा सेवे के समय 28 से 30 दिन के होखे ला जेह दौरान नर आ मादा दुनों अंडा सेवे लें। नया पैदा बच्चा सभ गुलाबी रंग के होखे लें जे 4 से 14 दिन में मटियाहूँ रंग के हो जालें। लगभग 63 दिन के फ्लेजिंग टाइम होला, मने कि उड़े से पहिले वाला इस्टेज। छह से नौ हप्ता बाद ई बच्चा आपन खतोना छोड़ देलें, आपन छोटहन झुंड बना लेलें जिन्हन के पॉड्स कहल जाला।

इनहन के मनुष्य के द्वारा इस्तेमाल होखे वाला कई केमिकल आ कीटनाशक सभ से खतरा देखल गइल बा। इनहन के शिकार भी करे ला लोग। फ्लोरिडा में 1972 में डीडीटी के इस्तेमाल पर रोक लगा दिहल गइल आ फ्लोरिडा के पेलिकन दीप (इनहने के कारन नाँव धराइल हवे) पर नेशनल वाइल्डलाइफ़ रिफ्यूज़ के अस्थापना 1903 में भइल रहे, जब रूजवेल्ट अमेरिकी राष्ट्रपति रहलें।

बाहरी कड़ी[संपादन]