भारत में अकाल, 1896-97

विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
ब्रिटिश राज (1909) के नक्सा, ब्रिटिश शासित राज्य आ राजघराना वाला राज्य देखावल गइल बाटे। सेंट्रल प्रोविंस आ बिरार इलाका एह अकाल से सभसे ढेर परभावित भइल रहल

1896-97 के अकाल भारत में आइल एक ठो अकाल रहल, जेकर सुरुआत भारत के बुंदेलखंड इलाका से 1896 के सुरुआती महीना में सुरू भइल आ एकरा बाद ई कई राज्यन में पसर गइल। मुख्य रूप से परभावित होखे वाला राज्य संजुक्त प्रांत, मध्य प्रांत आ बिरार, बिहार, बॉम्बेमद्रास प्रेसिडेंसी के कुछ इलाका, आ पंजाब के हिसार रहे; एकरे अलावा, राजपुताना, मध्य भारत एजेंसी, आ हैदराबाद के राजघराना राज्य भी परभावित भइल रहलें।[1] कुल मिला के अपना दू बरिस के समय में एह अकाल से कुल 307,000 वर्ग मील (800,000 किमी2) इलाका आ 69.5 मिलियन जनसंख्या[2] प्रभावित भइल।

नोट आ उद्धरण[संपादन]

संदर्भ[संपादन]

  • Imperial Gazetteer of India vol. III (1907), The Indian Empire, Economic (Chapter X: Famine, pp. 475–502), Published under the authority of His Majesty's Secretary of State for India in Council, Oxford at the Clarendon Press. Pp. xxx, 1 map, 552.