कला

भोजपुरी विकिपीडिया से
इहाँ जाईं: नेविगेशन, खोजीं
ई लेख कला के सामान्य मतलब के बारे मे बा, सगरी अइसन काम जेवना में कला के जरूरत होखे खातिर, कला (समस्त) देखल जाय। अउरी दूसर अरथ खातिर, कला (बहुअर्थी) देखल जाय।

कला आमतौर पर आदमी के ओ सगरी क्रिया के कहल जाला जवना में कल्पना आ कुशलता के इस्तेमाल से कुछ रचना कइल जाव। आमतौर पर कला के परिणाम कलाकृति, कला के समीक्षा होला, साथै साथ सुंदरता के शास्त्रीय विवेचन आ कला की इतिहास के अध्ययन भी कुछ हद तक एह में शामिल होला।