बीदसर

भोजपुरी विकिपीडिया से
अहिजा जाईं: परिभ्रमण, खोजीं
Location of Bidsar in Rajasthan

बीदसर राजस्थान में सीकर जिले की लक्ष्मणगढ़ तहसील का एक गाँव है। यह 21km लक्ष्मणगढ़ के पूर्व में और 6km नवलगढ़ से दूर पड़ता है। बीदसर के सीमावर्ती गाँव और कस्बे बिड़ोदी, बीदासर, मिर्जवास, दुंदलोद, और नवलगढ़ हैं। २०११ की जनगणना के अनुसार बीदसर की जनसँख्या २५४६ है।

इतिहास[सम्पादन]

बीदसर बिदा नामक व्यक्ति द्वारा भारत की स्वतंत्रता से पहले बसाया गया था| इस गाँव में गढ़वाल जाति का प्रभुत्व रहा है|

ग्राम सरकार[सम्पादन]

बीदसर बीदासर पंचायत के अंतर्गत आता है| नेता का शीर्षक सरपंच होता है| इस गाँव में १६ वार्ड हैं|

ग्राम अर्थव्यवस्था[सम्पादन]

लगभग 1500, आबादी का लगभग 80% की खेती में लगे हुए हैं| गांव कृषि पर निर्भर है| मानसून बारिश आज भी कृषि का आधार है| कई फार्मों का उपयोग हालांकि उत्स्रुत कूप सिंचाई के लिए होता है|

परिवहन[सम्पादन]

बीदसर एक दो लेन डामर लक्ष्मणगढ़ और नवलगढ़ के लिए सड़क द्वारा जुड़ा हुआ है| नवलगढ़ रेलवे स्टेशन 8km बीदसर से निकटतम रेलवे स्टेशन है, जो जयपुर, दिल्ली और अन्य शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है|

शिक्षा[सम्पादन]

गाँव पूर्ण साक्षर होने का दावा करता है, जबकि सारे बच्चे स्कूल जाते हैं। हालांकि, कई महिलाओं अनपढ़ बने हुए हैं, हालांकि साक्षरता दर में सुधार कर रहे हैं। सुधीर कुमार गढ़वाल जे. एन. यु. नई दिल्ली से अंतरराष्ट्रीय संबंध से स्नातकोतर कर रहा है। गाँव के कई छात्र अच्छे संस्थानों में तथा मेडिकल और इंजिनीयरिंग कॉलेजों में पढ़ रहे हैं।

धर्म और समारोह[सम्पादन]

धर्म[सम्पादन]

सभी ग्रामीण हिंदू धर्म का पालन करते हैं| जाट, हरिजन, ब्राह्मण गांव में रहते हैं| जाट के अलावा, गढ़वाल, खीचर , पुनियां , राड, दोतासरा , सुंडा , सियाग , क्रिश्निया , सेवदा सभी उप जातियां हैं |

समारोह[सम्पादन]

सभी ग्रामीण प्रमुख हिंदू त्योहारों को मनाते हैं| प्रमुख त्यौहारों में से कुछ हैं : होली, दीपावली, मकर संक्रांति, रक्षाबंधन, सावन, तीज, और गौगा, सहकर्मी, गणगौर आदि|

ग्राम स्थिति[सम्पादन]

गांव में सड़क के किनारे पर एक कुआ है। सड़क के बाईं ओर पर होली समारोह के लिए एक सामान्य क्षेत्र है। गांव की स्कूल राजकीय माध्यमिक विद्यालय, बीदसर लक्ष्मणगढ़ के लिए जाने वाली सड़क के दाईं ओर है। गाँव के चौपाल में स्व. श्री रामू राम गढ़वाल द्वारा एक बरगद का पेड़ लगाया हुआ है।

धार्मिक स्थल[सम्पादन]

  • हरी बाबा आश्रम (चाताराना जोहरा)
  • बाला गिरी बाबा (भिस्राना जोहरा)
  • गणेश जी मंदिर (कुमाना जोहरा)
  • शिव मंदिर (बीदसर बस स्टैंड)

सन्दर्भ[सम्पादन]

बाह्य सूत्र[सम्पादन]