वायुमंडल

भोजपुरी विकिपीडिया से
इहाँ जाईं: नेविगेशन, खोजीं
अंतरिक्ष से पृथ्वी क वायुमंडल नीला लउकत बाटे

वायुमण्डल कौनो आकाशीय पिण्ड की चारों ओर लपटाइल गैस क लेयर होला आ एही तरे हमनी की पृथ्वी की चारो ओर जवन गैस का परत पावल जाला ओ के वायुमण्डल कहल जाला।

वायुमण्डल क गढ़न[संपादन]

वायुमण्डल की गढ़न में गैसन क प्रतिशत हिस्सेदारी

वायुमंडल में क हवा कई गैसन का मेरवन होला। ऊँचाई की साथ एह्करी अनुपात में धटती-बढ़ती होला बाकी जमीन से १०० किलोमीटर ले हवा में गैसन क अनुपात लगभग एक्के नियर होला। नीचे वायुमण्डल की हवा में कवन गैस केतना मिलेले एकर लिस्ट बा (एम्में पानी या भाप के नइखे जोड़ल गइल) -

गैस प्रतिशत आयतन
नाइट्रोजन 78.09
ऑक्सीजन 20.95
आर्गन 0.93
कार्बन डाइआक्साइड 0.03
नीऑन 0.0018
हाइड्रोजन 0.001
हीलियम 0.000524
क्रिप्टॉन 0.0001
ज़ेनॉन 0.000008
ओज़ोन 0.000001

वायुमंडल क परतदार रचना[संपादन]

पृथ्वी की वायुमंडल के कई गो परत (लेयर) में बाँटल जाला। ई एगो सामान्य बात मानल जाला की वायुमंडल में ऊपर की ओर गइले पर ताप में कमी आवेले, बाकी ई बात पुरा वायुमंडल खातिर सही नइखे। एही से तापमान की बदलाव आ दूसरी कई गो बिसेसता की आधार पर वायुमंडल के कई गो परत में बाँटल गइल बा। जब एकरा के ताप की आधार पर बाँटल जाला त एके तापीय संरचना या थर्मल स्ट्रक्चर कहल जाला।

ट्रोपोस्फियर[संपादन]

स्ट्रेटोस्फियर[संपादन]

मेसोस्फियर[संपादन]

थर्मोस्फियर[संपादन]

आयनमंडल[संपादन]

एक्सोस्फियर[संपादन]

बादर[संपादन]

संदर्भ[संपादन]